Search

दुग्ध वर्ग

गाय और बकरी

का दूध हल्का और सुपाच्य होता है।

पेट के रोग में फायदा करता है

भैंस का दूध भारी होता है।

दही रुचिकर और चिकना होता है।वात नाशक और मांस बढ़ाने वाला होता है।शरीर को मोटा करता है।बुखार मैं लाभदायक होता है। दही को हमेशा गुड़ मिश्री बुरा,डालकर ही खाना चाहिए।

छाछ पेट को फायदा करती है।पीलिया में लाभदायक होती है।

ताजा मक्खन पेट साफ करता है ।ह्रदय के लिए फायदेमंद है।

घी स्मृति,बुद्धि,जठराग्नि,को बढ़ाता है।वात पित्त को खत्म करता है बुखार में लाभदायक है।सब स्नेहों मे श्रेष्ठ है।हजारों तरह की शक्ति रखता है।

छेना में चिकनाई नही होती।भारी रूखा मल को बांधने वाला होता है।


दीपाली अग्रवाल

सुजोक थेरेपिस्ट, नैचुरोपैथ

9887149904

27 views0 comments

Recent Posts

See All